AUTHORS
CATEGORIES
LANGUAGES
BOOK TYPE
PRICE

INR 8.00

INR 15.00

‘ચારિત્ર અને રાષ્ટ્રનિર્માણ’ એ ગાંધીજીએ જીવનમાં અપનાવેલ અને શીખવેલ વ્રતો, નિયમો અને ઉપદેશોનો તેમના જ લખાણોમાંથી સાર આપે છે. મોટાભાગના લખાણો તેમના મૂળભૂત ગ્રંથો મંગળપ્રભાત, સત્યાગ્રહ આશ્રમનો ઇતિહાસ અને રચનાત્મક કાર્યક્રમ-તેનું રહસ્ય અને સ્થાનમાંથી લેવામાં આવેલ છે. આ પુસ્તકો મોટેભાગે ગાંધીજીએ આશ્રમવાસીઓને ઉદ્દેશીને લખેલા હતા. આ પુસ્તક તેમના આ ઉપદેશોનું સરવૈયું આપે છે.

INR 15.00

बीसवीं सदी का रजतपट चार्ली चॅप्लिन नामक प्रतिभा से अभिभूत हैं। पर्दे पर आकृतियां जब दौड़ने लगीं—बेरंग, बेजुबान, तब चालीं ने उन बेजुबान आकृतियों को स्वर दि या, उन बेरंग फिल्मों में जीवन का रंग भरा। चार्ली चॅप्लिन ने समाज के एक हारे और मारे व्यक्ति को अभिनीत कि या और वह बन बैठा विश्व का सर् वाधिक लोकप्रिय चरित्र। चॅप्लिन इंग्लैंड में जन्मा , अमरीका में सृजनशील हुआ और सदस्य बना—समूचे मानव-समाज का। चार्ली की दरिद्रनारायण से कुबेर बनने तक की जीवनयात्रा और फिर खुशियों की तलाश का लंबा सफर, किसी चलचि त्र-पटकथा से कम रोमांचक और नाटकीय नहीं था। जगत को हँसानेवाले, जगत के जीवन में रंग भरनेवाले चार्ली को अपने जीवन में कि तनी सुख और शांति नसीब हुई? गुजराती के वि ख्या त हास्यकार वि नोद भट्ट की लेखनी से रचि त यह मर्मस्पर्शी पर अत्यं त सरस व्यक्तिचित्र चार्ली चॅप्लिन के जीवन के कुछ जाने और कई अनजाने प्रसंगो के द्वारा उस महान कला-प्रतिभा से एक अंतरंग परिचय कराता है।

Author(s) : Vinod Bhatt

INR 80.00

INR 100.00

INR 150.00